12 वीं में कॉमर्स पढ़ने के बाद क्या है करियर विकल्प

Saurabh Nanda

Saurabh Nanda

Educational Psychologist and Career Consultant | शैक्षिक मनोवैज्ञानिक और करियर सलाहकार

Video Description

हर विषय अपने आप में अच्छा होता है और सबका अपना महत्व होता है। ऐसे में ये नहीं कह सकते हैं कि ये विषय बेहतर है व ये नहीं। सभी विषय में भविष्य बनाने के लिए एक से एक विकल्प हैं। सौरभ नंदा इस वीडियो में आपके इस संशय को दूर करने में आपकी मदद कर रहे।

Saurabh Nanda

Educational Psychologist and Career Consultant | शैक्षिक मनोवैज्ञानिक और करियर सलाहकार

Saurabh Nanda is an educational psychologist, trainer, career consultant, e-learning expert, and podcaster.

A Computer Engineer from NIT Jalandhar, with an MA in Clinical Psychology, he is currently pursuing PG Diploma in Sustainability Sciences. In 2019, he was selected for a fellowship at Awaji Youth Federation in Japan, where he developed a web platform for sharing SDGs (Sustainable Development Goals) from around the world.

He has more than nine years of experience in various domains of the education industry. He brings his computer engineering experience to education guidance. Saurabh has impacted over 14,000 students and parents across India, Denmark, and Japan. His mentees have been placed in various top-ranking B-schools in India and abroad, such as NUS (National University of Singapore), NTU (Nanyang Technological University, Singapore), HEC (Paris), Alliance Business School (University of Manchester, UK), Schulich School of Business (Canada), and so on.
  
He is the co-founder of the Happy Career Project, which helps students and young professionals find solutions to their career problems.

सौरभ नंदा जो एक शैक्षिक मनोवैज्ञानिक, प्रशिक्षक, कैरियर सलाहकार, ई-लर्निंग विशेषज्ञ और पॉडकास्टर हैं। इन्होने जालंधर एनआईटी से एक कंप्यूटर इंजीनियर करने के बाद क्लीनिकल साइकोलॉजी में एमए भी किया है जिसकी वजह से वो शैक्षणिक मनोवैज्ञानिक सलाह अच्छी दे सकते हैं। हालांकि वर्तमान में वो सस्टेनेबिलिटी साइंस से पीजी डिप्लोमा कर रहे है। इतना ही नहीं इनके हुनर को देखते हुए साल 2019 में उन्हें जापान में अवाजी यूथ फेडरेशन में फ़ेलोशिप के लिए चुना गया था, जहां उन्होंने दुनिया भर के एसडीजी (सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स) को साझा करने के लिए एक वेब प्लेटफॉर्म विकसित किया।

शिक्षा के क्षेत्र में उन्हें 9 साल से भी अधिक का अनुभव है, शिक्षा उद्योग के विभिन्न क्षेत्रों में नौ वर्षों से भी अधिक का अनुभव है। वह अपने कंप्यूटर इंजीनियरिंग के अनुभव को शिक्षा मार्गदर्शन में इस्तेमाल करते है। सौरभ ने भारत, डेनमार्क और जापान में 14,000 से भी अधिक छात्रों और अभिभावकों को अपने अनुभव से प्रभावित किया है। उनकी सलाह को भारत और विदेशों में विभिन्न शीर्ष-रैंकिंग बी-स्कूलों में रखा गया है, जैसे NUS (नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ़ सिंगापुर), NTU (नानयांग टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी, सिंगापुर), HEC (पेरिस), एलायंस बिज़नेस स्कूल (मैनचेस्टर विश्वविद्यालय) यूके), स्कुलिच स्कूल ऑफ बिजनेस (कनाडा), और ऐसे कई अन्य में भी।

वह हैप्पी करियर प्रोजेक्ट के सह-संस्थापक भी हैं, जो छात्रों और युवा पेशेवरों को अपने करियर की समस्याओं का समाधान खोजने में मदद करता है।

View Details
  Download Spark.Live App

Join more than 1 million learners

On Spark.Live, you can learn from Top Trainers right from the comfort of your home, on Live Video. Discover Live Interactive Learning, now.