Read Home » हिंदी लेख पढ़ें » करियर » 5 सितंबर को ही क्यों मनाया जाता है शिक्षक दिवस, क्या है इसका महत्व?| Why is Teacher’s Day celebrated on 5 September

5 सितंबर को ही क्यों मनाया जाता है शिक्षक दिवस, क्या है इसका महत्व?| Why is Teacher’s Day celebrated on 5 September

  • द्वारा
शिक्षक दिवस

हर साल हम सभी भारतीय 5 सितंबर के दिन शिक्षक दिवस मनाते हैं, यह दिन सभी शिक्षकों के लिए विशेष होता है। शिक्षक दिवस के मौके पर स्कूलों में तरह-तरह के कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। कई स्कूलों में बच्चे इस दिन टीचर बनकर अपने शिक्षकों की भूमिका निभाते हैं। लेकिन ये सब इस साल संभव नहीं है क्योंकि कोरोना काल से सबकुछ पर रोक लगा दी, चाहे बच्चा हो बड़ा सभी की जिंदगी मानो रूक सी गई है। हालांकि आज हम आपको शिक्षक दिवस की कुछ महत्वपूर्ण जानकारी देने जा रहे हैं जिसके बारे में कुछ लोगों को तो पता होगा लेकिन कुछ लोग शायद नहीं जानते होंगे।

ये बात तो सच है कि शिक्षकों का छात्रों के जीवन में खास महत्व होता है इनके बीच का रिश्ता भी बेहद ही विशेष होता है, तभी तो कहा जाता है कि एक शिक्षक के बिना छात्र का जीवन अधूरा माना जाता है। शिक्षक दिवस हम सभी मनाते तो जरूर हैं लेकिन क्या आपको पता है कि ये 5 सितंबर को ही क्यों मनाया जाता है ? क्या है शिक्षक दिवस के मनाए जाने का महत्व ? इन सभी सवालों के जवाब आपको हम आज देने जा रहे हैं। तो आइए जानते हैं…

यह भी पढ़ें : वर्क फ्रॉम होम: क्यों और कैसे हुआ महत्वपूर्ण? (Work from home: why and how it became important?)

5 सितंबर को ही क्यों मनाया जाता है?

इस खास दिन को 5 सितंबर के दिन ही मनाने का ये रहस्य है कि इस दिन भारत के भूतपूर्व राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्मदिन होता है जिसके उपलक्ष्य में यह दिन ही चुना गया। इसके पीछे भी एक कहानी है दरअसल देश के पहले उप-राष्‍ट्रपति डॉ राधाकृष्‍णन का जन्म 5 सितंबर 1888 को तमिलनाडु के तिरुमनी गांव में एक ब्राह्मण परिवार में हुआ था। वे बचपन से ही किताबें पढ़ने के शौकीन थे और स्वामी विवेकानंद से काफी प्रभावित थे। जिसके बाद इनका निधन चेन्नई में 17 अप्रैल 1975 को हुआ था।

कहा जाता है कि जब डॉ. एस राधाकृष्णन भारत के राष्ट्रपति बने तो उनके कुछ छात्र व मित्र उनके पास पहुंचे और उनसे अनुरोध किया कि वे उन्हें अपना जन्मदिन मनाने की अनुमति दें। जिसपर उन्होने उत्तर दिया कि मेरे जन्मदिन को अलग से मनाने के बजाय इस 5 सितंबर को शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाए तो यह मेरे लिए गौरवपूर्ण सौभाग्य होगा। तब से उनकी जयंती यानी 5 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाया जाने लगा।

यह भी पढ़ें : ये है भारत के टॉप 10 स्कूल व कॉलेज (List of top schools and collages in India)

कैसे मनाया जाता है शिक्षक दिवस?

शिक्षक दिवस देशभर में धूमधाम से मनाया जाता है, छात्र व शिक्षक दोनों ही इस दिन को काफी अच्छे से सेलिब्रेट करते हैं। इस दिन स्कूलों में स्टूडेंट्स शिक्षकों के लिए कई तरह के रंगा-रंग कार्यक्रमों को आयोजित करते हैं। स्टूडेंट्स अपने शिक्षक को तरह-तरह के गिफ्ट्स देते हैं। इस दिन शिक्षकों को मान-सम्मान देकर उनके काम की सराहना की जाती है। वहीं इस दिन के विशेष होने का कारण यह भी है कि ये राष्ट्रीय स्तर पर शिक्षक दिवस के दिन शिक्षकों को उनके कार्य के लिए राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार से नवाजा जाता है। यह पुरस्कार हर साल देश के राष्ट्रपति द्वारा दिया जाता है।

किस देश में कब मनाया जाता है शिक्षकदिवस?

वैसे देखा जाए तो सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि अन्य देशों में भी शिक्षक दिवस मनाया जाता है। जी हां अंतर्राष्ट्रीय टीचर्स डे का आयोजन 5 अक्टूबर को होता है। कहा जाता है कि इस दिन कुछ देशों में छुट्टी का दिन रहता है तो कुछ देशों में कोई अवकाश नहीं रहता है। वहीं बात करें चीन की तो वहां 10 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाया जाता है। अमेरिका में मई के पहले पूर्ण सप्ताह के मंगलवार को शिक्षकदिवस सेलीब्रेट किया जाता है। वहीं, थाइलैंड में हर साल 16 जनवरी को राष्ट्रीय शिक्षक दिवस मनाया जाता है।

Spark.live पर मौजूद करियर काउंसलर सौरभ नंदा से संपर्क करने के लिए यहां क्लिक करें

संंदर्भ लेख : 5 सितंबर को ही क्यों शिक्षक दिवस मनाया जाता है

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *