Read Home » हिंदी लेख पढ़ें » स्वास्थ्य और तंदुस्र्स्ती » फीवर में डायट: कैसा होना चाहिए, क्या खाएं व क्या नहीं खाएं ?| What should be eaten in Fever?

फीवर में डायट: कैसा होना चाहिए, क्या खाएं व क्या नहीं खाएं ?| What should be eaten in Fever?

  • द्वारा
फीवर

सर्दी के मौसम की शुरूआत हो गई है, वहीं इसके साथ ही साथ कोरोना का डर भी अभी खत्म नहीं हुआ है। ऐसे में कई लोगों को मौसम बदलने से बुखार यानि की फीवर की समस्या भी होती है। वैसे देखा जाए तो जो लोग अपने कामकाजी लाइफ में बीजी होते हैं वो जब तक बुखार हद से ज्यादा बढ़ नहीं जाता, तब तक उसे नजरअंदाज करते हैं।

पर कई मामलों में इसे नजरअंदाज करना खतरनाक साबित हो जाता है, क्योंकि यह तभी होता है जब शरीर में कोई संक्रमण होता है। इसलिए सही समय पर फीवर का दवा ले लेना चाहिए। पर यह भी ध्यान रहे कि फीवर के दौरान दवा के साथ डाइट का भी ध्यान अवश्य रखना चाहिए।

Spark.live पर मौजूद आहार विशेषज्ञ सोनाली से संपर्क करने के लिए यहां क्लिक करें

आप अगर जानना चाहते हैं कि वजन घटाने में कौन सा इन दोनों में से कौन सा डाइट आपके शारीरिक जरूरत के अनुसार सही रहेगा तो हमारे नेटवर्क पर मौजूद डाइटिशियन सोनाली मलिक आपकी मदद कर सकते हैं। वो आपको एक परफेक्ट डाइट चार्ट भी बनाकर दे सकते हैं इसलिए हमारे डाइटिशियन सोनाली मलिक से संपर्क करें।

फीवर के लक्षण

अगर आपके शरीर का तापमान 98.6°F से ज्यादा हो तो वह बुखार के लक्षणों में शामिल हो जाता है, बुखार के लक्षण बीमारी के आधार पर भिन्न भिन्न होते हैं-

-सिरदर्द
-बदन दर्द
-भूख नहीं लगना
-शरीर में बेचैनी
-कमजोरी लगना
-ठंड लगना
-चिड़चिड़ापन

यह भी पढ़ें : कीटोजेनिक आहार: आपके स्वास्थ्य के लिए कितना फायदेमंद है कीटो डाइट?

फीवर में डॉक्टर के पास कब जाना चाहिए?

अब आपके मन में ये सवाल जरूर आ रहा होगा कि आखिर डॉक्टर के पास कब जाना चाहिए। तो आपको बता दें कि अगर आपको कभी भी बुखार जैसा फील हो तो डॉक्टर से सलाह लेने में देर नहीं करनी चाहिए, उसके बाद उनके परामर्श पर बुखार को मॉनिटर करना चाहिए। अगर तीन दिनों के बाद भी बुखार नहीं उतरता है तो फिर डॉक्टर टेस्ट करने की सलाह देते हैं।

Spark.live पर मौजूद प्रमाणित आहार विशेषज्ञ सोनाली के अनुसार, “फीवर में हमें ऐसा खाना खाना चाहिए जो हेल्दी और टेस्टी होने के साथ जल्दी हजम भी हो जाए।”

फीवर में डायट

अब बात करते हैं फीवर होने पर खान पान की, वैसे देखा जाए तो आम दिन में भी हमें अपने डायट का ख्याल रखना चाहिए लेकिन लोग इसे इग्नौर कर देते हैं। यही आदत अगर फीवर या फिर किसी बीमारी के दौरान रहे तो आप मुश्किल में पड़ सकते हैं। इसलिए आज हम आपको बताएंगे कि फीवर में डायट कैसा होना चाहिए ? क्या खाना चाहिए? व क्या नहीं खाना चाहिए?

फीवर में क्या नहीं खाना चाहिए?

फीवर में डायट के बारे में अगर कोई चीज है जिसे खाने की मनाही है तो सबसे पहले आता है बाहर का खाना, जिसका सेवन भूल से भी इस दौरान नहीं करना चाहिए- जैसे कॉफी, शराब, सोडा, रेड मीट, स्नैक्स, जंक फूड, पैकेज्ड फूड, फ्राइड फूड आदि।

यह भी पढ़ें : कीटो डाइट: जानें इसके फायदे व नुकसान दोनों ही| Keto Diet: Know its advantages and disadvantages

फीवर में क्या खाना चाहिए?

अब बात करते हैं उन डायट की जिसका सेवन फीवर के दौरान करना लाभदायी माना गया है। दरअसल इस दौरान हमें ऐसा खाना खाना चाहिए जो हेल्दी और टेस्टी होने के साथ जल्दी हजम भी हो जाए। जैसे -चिकन सूप, मछली, फल, सब्जियां , लहसुन , दही, केला , नारियल पानी आदि।

अब तो आपको भी समझ आ गया होगा कि फीवर में डायट में क्या-क्या शामिल होना चाहिए और क्या नहीं। फीवर में डायट अगर ठीक होगा, तो बुखार के बाद शरीर को कमजोरी जैसी परेशानियां नहीं होंगी।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *