Read Home » हिंदी लेख पढ़ें » स्वास्थ्य और तंदुस्र्स्ती » बच्चों के स्वास्थ्य के लिए आहार में शामिल करें ये चीजें| These things are necessary for children’s Health

बच्चों के स्वास्थ्य के लिए आहार में शामिल करें ये चीजें| These things are necessary for children’s Health

  • द्वारा
बच्चों को पोषण

पोषण की आवश्यकता हम सभी को होती है, चाहे युवा हो, बुढ़ा हो या बच्चा। बच्चे अक्सर ही खाने में लापरवाही करते हैं ऐसे में माता पिता को बहुत सारी समस्या होती है। पर यह भी सच है कि बच्चों को पोषण के लिए सबसे ज्यादा ध्यान देने की आवश्यकता है। जैसा कि आप सभी जानते हैं कि बच्चे हरी सब्जियां, अंकुरित अनाज खाना ज्यादा पसंद नहीं करते हैं, लेकिन उनके स्वास्थ्य के लिए यह बेहद जरूरी है जिनके लिए स्वास्थ्यप्रद भोजन भी जरूरी है। इसे खिलाने के लिए कई तरीके अपनाने पड़ेंगे।

बच्चों को पोषण के लिए ऐसे परोसे खाना

आपने देखा होगा कि बच्चे जब बाहर जाते हैं तो खाने की ऐसी चीजों की तरफ उनका ध्यान ज्यादा जाता है जो रंग-बिरंगी होती हैं। बच्चों को हेल्दी चीजें खिलाना कठिन होता है इसलिए उन्हें खाना इस तरह से परोसे कि यह अच्छा दिखे और वे खाने में दिलचस्पी भी रखें। पोषण व आहार विशेषज्ञ की मानें तो बच्चों के मन में स्वस्थ आहार के प्रति रुचि जगाने के संबंध में सुझाव दिए हैं।

यह भी पढ़ें : राष्ट्रीय पोषण सप्ताह: ये बातें जानना है जरूरी| National Nutrition Week: These Things To Know

बच्चों को पोषण के लिए दें ये खाना

चोकर साथ गेहूं के आटे की रोटी, दलिया, क्विन्वा या ब्राउन ब्रेड आप बच्चे के आहार में शामिल कर सकते हैं। इसके अलावा आप चाहे तो चोकर या छिल्का युक्त अनाज विटामिन बी और फाइबर से भरपूर होते हैं, यह आपके बच्चे का पेट तो भरेगा ही उसके साथ पाचन को सुधारने में भी मदद होते हैं। बच्चों को अंकुरित अनाज, सोयाबीन, चना भी खिलाएं।

प्रोटीन से भरे उत्तकों के लिए हीमोग्लोबिन बनाने, इम्यूनिटी पावर बढ़ाने, मांसपेशियों को विकसित करने में मदद करता है। सी-फूड, अंडे, लीन मीट, मुर्गी, फलियां, मटर, दूध, दाल, सोया आदि प्रोटीन के स्रोत होते हैं।

बच्चों के आहार में आप चाहे तो फलो व सब्जियों को दूसरे तरीके से दे सकते हैं, आप चाहे तो कभी-कभार जूस भी दे सकते हैं क्योंकि चोकर युक्त अनाज के फाइबर को ये शरीर से निकाल देते हैं और अगर जूस देना है तो बाजार में डिब्बा बंद जूस में ढेर सारा चीनी होता है, इसलिए घर पर बिना चीनी मिलाएं जूस ही बच्चे को दें।

हो सके तो बच्चे को आहार में कई तरह की सब्जियां खिलाएं जैसे- मटर, बीन्स, ब्रोकली, हरी पत्तेदार सब्जियां आपके बच्चे के सेहत के लिए काफी फायदेमंद हैं। ये विटामिन्स, मिनरल और आयरन से भरपूर होती हैं।

कम फैट वाले डेयरी उत्पाद जैसे दूध, दही, पनीर आदि कैल्शियम का अच्छा स्रोत होते हैं, जो शरीर की हड्डियों को मजबूत बनाते हैं। बच्चों के लिए गाय और बकरी के दूध का सेवन ज्यादा लाभदायक होता है।

यह भी पढ़ें : बच्चों के लिए स्वस्थ खाद्य पदार्थ (Healthy Foods for Kids)

बच्चों के आहार में इन चीजों को न करें शामिल

बच्चों के आहार में कोशिश करें कि एडेड सुगर को नैचुरल खाद्य पदार्थ और पेय पदार्थो की आदत डालते हैं। इसके अलावा आप चाहे तो भोजन, चॉकलेट्स, कैंडी, ब्राउन सुगर को सीमित मात्रा में ही अपने बच्चों के आहार में शामिल कर सकते हैं क्योंकि इससे उनके दांतों की समस्या व सिर दर्द जैसी समस्या दूर रहेगी।

ट्रांस फैट वाले भोजन सेहत के लिए हानिकारक हो सकते हैं, जैसे उच्च वसा वाले दूध, रेड मीट और मुर्गी आदि। आप चाहे तो विटामिन ई और आवश्यक फैटी एसिड युक्त सब्जियों, नट ऑयल और सी फूड का सेवन करें। स्वास्थयपरक फैट नट्स, ऑलिव और एवोकैडो में पाए जाते हैं।

ध्यान रहे कि गर्मी के मौसम में बच्चों को खूब तरल पदार्थो का सेवन कराएं ताकि उनका शरीर हाइड्रेट रहे। उनके आहार में दही, पुदीना, खरबूज, तरबूज और गुलकंद शामिल करें।

Spark.live पर मौजूद आहार विशेषज्ञ सोनाली से संपर्क करने के लिए यहां क्लिक करें

आप अगर जानना चाहते हैं कि वजन घटाने में कौन सा इन दोनों में से कौन सा डाइट आपके शारीरिक जरूरत के अनुसार सही रहेगा तो हमारे नेटवर्क पर मौजूद डाइटिशियन सोनाली मलिक आपकी मदद कर सकते हैं। वो आपको एक परफेक्ट डाइट चार्ट भी बनाकर दे सकते हैं इसलिए हमारे डाइटिशियन सोनाली मलिक से संपर्क करें।

संदर्भ लेख : बच्चों के लिए सुपर फूड खाना क्यों है जरूरी?

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *