Read Home » हिंदी लेख पढ़ें » Featured » इन स्मार्ट तरीकों से करेंगे निवेश तो मजबूत होगी वित्तीय स्थिति

इन स्मार्ट तरीकों से करेंगे निवेश तो मजबूत होगी वित्तीय स्थिति

  • द्वारा
निवेश

हमारे जीवन में पैसे का महत्व कितना है ये तो हम सभी जानते हैं, लेकिन कई बार आपने ऐसा देखा होगा कि लोग पैसा तो कमा लेते हैं पर सही तरीके से उसका निवेश नहीं कर पाते हैं। ये चीजें कुछ लोगों के साथ इसलिए भी होती है क्योंकि उनके पास उतनी जानकारी नहीं होती। हर समस्या की तरह ये समस्या भी काफी लोगों के साथ होती है, ऐसे में आप चाहे कि किसी वित्तीय काउंसलर यानि की चार्टर्ड अकाउंटेट से सलाह ले सकते हैं।

चार्टर्ड अकाउंटेट का काम निवेश से लेकर बिजनेस, कर संबंधी सही जानकारी प्रदान करना है। वैसे यह कहना गलत नहीं होगा कि दुनिया की तेज विकसित होती अर्थव्यवस्था के रूप में भारत में कई स्मार्ट निवेश के विकल्प हैं, जो आपको अपनी वित्तीय जरूरतों को पूरा करने में मदद भी कर सकता है। एक वित्तीय काउंसलर के सलाह की जरूरत जीवन के किसी भी मोड़ पर पड़ सकती है, वित्तीय काउंसलर द्वारा दी जाने वाली सामान्य सलाह से आप अपने ही पैसे से खुद के लिए पैसा बना सकते हैं।

अपना पैसा निवेश करने से पहले आपकी भविष्य में आने वाली अपनी जरूरतों यानि की लक्ष्यों के बारे में जानना होगा वो कुछ भी हो सकता है जैसे वित्तीय स्वतंत्रता प्राप्त करना, आपातकाल की व्यवस्था करना, घर खरीदना या अपने बच्चे का भविष्य सुरक्षित करना हो सकते हैं। इन लक्ष्यों को ध्यान में रखकर ही आप निवेश कर सकते हैं। आपके लिए कौन सा विकल्प सबसे अच्छा होगा, इसमें आपकी सहायता वित्तीय काउंसलर कर सकता है।

यह भी पढ़ें : जानें, योग कैसे बन गया योगा, अध्यात्म से कैसा है इसका संबंध ?

स्मार्ट निवेशक बनने के कुछ टिप्स

एक स्मार्ट निवेशक होने के लिए कोई सटीक विज्ञान नहीं है। आपको केवल कुछ सिद्ध प्रथाओं का पालन करना है, सीखने के लिए खुले रहें और समय के साथ, जब आप निवेश की विभिन्न जटिलताओं की बात आती है तो आप खुद को बहुत अधिक प्राकृतिक पाएंगे।

जल्दी शुरू करें

कंपाउंडिंग प्रभाव नामक कुछ है। यह निवेश के लिए आश्चर्यजनक रूप से लागू होता है। यदि आप नौकरी के वेतन दिवसों से ही शुरुआत करते हैं, तो शायद आपको कुछ वर्षों में आप जिस तरह के रिटर्न की उम्मीद कर सकते हैं, वह वास्तव में 3 साल या 5 साल से शुरुआत करने से उच्च होगा यदि आप जल्दी करते हैं। यह प्रारंभिक शुरुआत का जादू है। मुद्रास्फीति के साथ, यदि आपका पैसा निवेश कर रहे हैं, तो न केवल यह मुद्रास्फीति के प्रभाव को रद्द कर रहा है बल्कि यह कैपीटल पर बढ़ते रिटर्न का उत्पादन करता है।

अपनी आवश्यकताओं को जानें

सबसे पहले आप अपनी आवश्यकताओं को जानें, आप वास्तव में क्यों निवेश कर रहे हैं? परिपक्व हो जाने के बाद आप इन निवेशों के साथ क्या करने जा रहे हैं? आपको कितना चाहिए? आपको कब चाहिए? ये आपको स्पष्ट होना चाहिए कि भविष्य में आपके निवेश का उपयोग कैसे किया जा रहा है? क्या ये आपके बच्चे की शिक्षा, शादी, छुट्टियों की योजना, सेवानिवृत्ति, घर खरीदने या कुछ और के लिए हैं? हर अलग-अलग व्यक्तियों की अलग आकांक्षाएं होती हैं इसलिए अगर आप आज अपने निवेश किए गए पैसे को एक निवेश योजना में डाल रहे हैं, तो भविष्य में उपयोग के लिए आपके सिर में एक दृष्टि होनी चाहिए।

निवेश उत्पादों का चुनाव

आज विश्व भर के बाजार में भारतीय वित्तीय का स्थान सबसे गतिशील स्थानों में से एक है। आपकी आवश्यकता के आधार पर उपलब्ध निवेश उत्पादों की एक बड़ी विविधता उपलब्ध है। म्यूचुअल फंड, इक्विटी शेयर, पी.पी.एफ, गोल्ड ई.टी.एफ, बॉन्ड, मुद्रा आदि जैसे उत्पाद हैं। आपके पास अपनी पूंजी के लिए चुने गए निवेश उत्पाद की कुछ बुनियादी समझ होनी चाहिए। इससे भी बेहतर होगा, अगर आप इसकी गतिशीलता को पूरी तरह से समझते हैं।

अपने जोखिम लेने की भूख को समझें

हर किसी के पास अलग-अलग जोखिम की भूख होती है। कुछ नीचे बाजार के दौरान निवेश करते हैं, और जैसे ही वे एक छोटे से नकारात्मक विचलन को देखते हैं बाहर नीकल जाते हैं, कुछ लोग बाजार में उतरते समय निवेश करते हैं। यह सब आपके इंवेस्ट के आधार पर निर्भर करता है। यदि आपने इंवेस्ट विकल्प का विस्तृत मौलिक विश्लेषण किया है तो आपने अपनी पूंजी डाल दी है और बाजार स्थितियों से अवगत हैं, तो आपके लिए बाहर निकलने के लिए कम से कम कारण होते हैं।

यह भी पढ़ें : जीवन की गुणवत्ता बढ़ाने में अहम भूमिका निभाता है योग

लगातार निवेश करें

एक स्मार्ट निवेशक के रूप में खड़े होने के लिए, सबसे महत्वपूर्ण कारकों में से एक निवेश की आदत बनाना है। जब भी आपके पास कुछ विशेष राशि आए तो इस पल के लिए संभवतः गैर-प्रयोग योग्य है इसे काम पर रखें व निवेश करें। इसके अलावा, राशि मूल्य के बारे में चिंता न करें अगर आप छोटे धन के साथ निवेश करते हैं, तो कुछ समय के बाद समग्र निवेश मूल्य सही होगा।

वित्तीय सलाहकार यश धानुका से करें संपर्क

अगर आपको भी वित्तीय काउंसलर की आवश्यकता है तो Spark.live पर मौजूद यश धानुका आपके लिए बेहतर सलाहकार साबित हो सकते हैं। यश धानुका भारत के सबसे बड़े वाणिज्यिक निजी बैंक, आईसीआईसीआई में पांच साल का अनुभव प्राप्त है। यश धानुका से आप कर और निवेश जैसी समस्याओं पर पर्सनल सलाह ले सकते हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *