Read Home » हिंदी लेख पढ़ें » स्वास्थ्य और तंदुस्र्स्ती » रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए घर पर ही करें यह तीन योगासन

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए घर पर ही करें यह तीन योगासन

  • द्वारा

आजकल विश्व कोरोना जैसे महामारी का सामना कर रहा है ऐसे में शरीर में रोग प्रतिरोधक शक्ति का होना आवश्यक है क्यूंकि यह जितनी ज्यादा रहेगी उतना ही शरीर मजबूत रहता है  और शरीर को कोरोना जैसे संक्रमित रोगो से लड़ने की शक्ति मिलती है. हालाँकि आजकल के खानपान और ग़लत जीवनशैली के कारण हमारा इम्यून सिस्टम (रोग प्रतिरोधक तंत्र) इतना मजबूत नहीं रहता है की वह रोगो से लड़ सके। जिसके कारण हमारा शरीर जल्द ही रोगो से घिर जाता है।इसलिए आवश्यक है की आपका इम्यून सिस्टम अच्छा रहे।

इम्युनिटी को बढ़ाने के लिए योग महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। योग द्वारा इम्युनिटी को बढ़ाकर शरीर को स्वथ्य रखा जा सकता है। क्या आपको पता है कुछ बेहद ही सरल योग हैं जिन्हे आप घर में ही अपना सकते हैं जो आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाते है|. भोपाल के एक प्रसिद्ध योग विशेषज्ञ और योग गुरु डॉ. मोहित कहते हैं कि

“ऐसे बहुत से सरल योग हैं जिन्हे आप अपनी इम्यूनिटी पावर बढ़ाने के लिए घर पर ही अभ्यास कर सकते हैं. यह सत्य है कि आप योग से शरीर के तमाम रोगो की रोकथाम कर सकते हैं.  जैसे जिनमें हृदय रोग और फेफड़ों की समस्या भी शामिल है. प्राणायाम, भुजंगासन, मत्स्यासन जैसे सरल योग आपके  प्रतिरोधक शक्ति को बढ़ा कर आपके फेफड़ों और दिल को मजबूत  करते है. और सबसे अच्छी बात है इसके लिए आपको सिर्फ़ एक चटाई की ज़रूरत पड़ती है.”

योगिक विज्ञान में मास्टर, डॉ मोहित भोपाल में योग स्टूडियो का संचालन करते हैं उनके मार्गदर्शन से हज़ारों छात्र  स्वस्थ दिल और फेफड़े को मजबूत कर चुके हैं. डॉ मोहित बताते हैं कि ताड़ासन, वृक्षासन, त्रिकोणासन और उत्कटासन जैसे योग आसन बहुत ही सरल हैं जिन्हे कोई भी व्यक्ति बहुत ही सरलता से घर में ही अभ्यास कर सकता है.

तो आइए जानते हैं इन सरल योग आसन कैसे आपकी  इम्युनिटी शक्ति को बढ़ाता है:-

उत्कटासन:

उत्कटासन सुबह के वक्त खाली पेट किया जाता है. यह आपके शरीर को संतुलित करता है, और आपके दिल को उत्तेजित करता है.

त्रिकोणासन

इसे त्रिभुज पोज़ भी कहा जाता है सुबह के वक्त इस आसन का अभ्यास करना सबसे अच्छा है.यह आसन एकाग्रता और संतुलन को बढ़ाता है. यह मन को शांत करता है और तनाव दूर ले जाता है.

वृक्षासन
इस आसन में शरीर कि स्थिति एक वृक्ष के समान होती है, इसी कारण इसे वृक्षासन कहते है. वृक्षासन आपकी रीढ़ की हड्डी को मजबूत बनाता है. यह आपकी मानसिक क्षमताओं को सुधारता है.

ताड़ासन
इस योग आसन को माउंटेन पोस भी कहा जाता है.इस मुद्रा को दिन में किसी भी समय किया जा सकता है. इसके लिए आपको केवल 10-20 सेकंड देने की जरुरत होती है. बस इस आसन को करते समय यह ध्यान रखे कि उस समय आपका पेट खाली हो.ताड़ासन पाचन तंत्र को सुचारू कर आपकी प्रतिरोधक क्षमता को बढाता है.

उपरोक्त सभी आसन का अभ्यास कर आप अपने रोग प्रतिरोधक तंत्र को बढ़ा सकते है. इसके अलावा आप योग गुरु डॉ मोहित से बेहद ही सरल ढंग से घर बैठे ही ऑनलाइन सत्र ले सकते हैं. अधिक जानकारी के लिए नीचे Online Yoga Session क्लिक करें.

Online Yoga Session

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *