Read Home » हिंदी लेख पढ़ें » करियर » कैसे करें ऑनलाइन ट्यूशन? |How to do Online teaching?

कैसे करें ऑनलाइन ट्यूशन? |How to do Online teaching?

  • द्वारा
ऑनलाइन ट्यूशन

शिक्षा जगत में इस समय बेहद ज्यादा परिवर्तन देखने को मिला है जिसमें से ऑनलाइन शिक्षा है। पहले जहां बच्चे को पढ़ने और पढ़ाने के लिए एक क्लास रूम होता था अब के वक्त में ये पैटर्न पूरी तरह से बदल गया है। अब सबकुछ ऑनलाइन हो चुका है, आज के समय में टेक्नोलॉजी का जिस तरह से विकास हुआ है उससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि ऑनलाइन सारी सुविधाएं होने के कारण सभी क्षेत्र में कितना बदलाव आया है। ऑनलाइन शिक्षा से सभी बच्चों की रूकी हुई पढ़ाई फिर से वापस अपने पटरी पर आ गई है।

आज इंटरनेट से इस युग में ऐसी क्रांति आई है जिसके कारण अब एक देश में बैठकर दूसरे देश में भी पढ़ाया जा सकता है। जी हां ऑनलाइन के इस युग ने ई-ट्यूटरिंग के कॉन्सेप्ट को बढ़ावा दिया है। अगर आप विद्यार्थी हैं और आपको भी बच्चों को पढ़ाना अच्छा लगता है तथा पढ़ने के साथ-साथ पार्ट टाइम पढ़ाना चाहते हैं जिससे कुछ कमाई के साथ साथ पढ़ाई भी हो जाये।

Spark.live पर मौजूद निहार हिरानी से संपर्क करने के लिए क्लिक करें

ऑनलाइन टीचिंग एक नया विकल्प है इसलिए इसके बारे में काफी कम लोग जानते है, तो हमारे नेटवर्क Spark.live पर मौजूद निहार हिरानी जो कि एक बेहतरीन ऑनलाइन एडुकेटर व मैथ्स टीचर हैं। Spark.live  पर आपको किफायती दरों में काफी कुछ सीखने को सकता है ये एक ऐसा मंच है जहां हेल्थ से लेकर धर्म, करियर, पर्सनालिटी डेवलपमेंट, योगा फिटनेस, चिकित्सा सारी सेवाएं उपलब्ध है।

इतना ही नहीं अगर आप पैरेंट्स हैं और बच्चों को पढ़ाना अच्छा लगता है लेकिन पारिवारिक जिम्मेदारियों के चलते आप बच्चे को नहीं पढ़ा पाते तो आप बतौर ऑनलाइन ट्यूटर न सिर्फ अपने शौक को जिन्दा रख सकते हैं, धीरे-धीरे आप इसमें अपना करियर भी बना सकते हैं।

यह भी पढ़ें : निहार हिरानी से जानें ऑनलाइन टीचिंग कैसे बन सकता है बेहतरीन करियर ऑप्शन (How online teaching can become the best career option)

कैसे करें ऑनलाइन ट्यूशन का प्रारंभ ?

ऑनलाइन ट्यूटर का चलन भारत में कुछ साल पहले ही शुरू हुआ लेकिन इस कोरोना काल में ये जैसे ट्रेंड ही बन गया। ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि इसमें ना तो ट्यूटर को स्टुडेंट के घर जाने की जरूरत है और ना ही छात्रों को किसी ट्यूशन सेंटर में जाने की जरूरत है। खास बात तो ये है कि ऑनलाइन माध्यम से ई मेल व वेबसाइट के जरिए छात्र अपने होमवर्क और पढ़ाई में आ रही समस्याओं को अपने ट्यूटर से शेयर करते हैं और ट्यूटर उन्हें हल कर ऑनलाइन ही भेज देते हैं।

ऑनलाइन ट्यूशन के दौरान दें इन बातों का ध्यान

अगर आप भी ऑनाइन ट्यूटर बनने की सोच रहे हैं तो आपके अंदर कुछ विशेष गुणों का होना बेहद जरूरी है। सबसे पहले तो आपको अपने विषय की अच्छी समझ होनी चाहिए, ताकि पढ़ाते समय आपको किसी तरह की समस्या न हो। इसके अतिरिक्त आपको यह भी समझना होगा कि दूसरे देशों की पढ़ाई और वहां के सिलेबस में काफी अंतर होता है इसलिए आपको उसे भी समझना और अपनाना होगा। सबसे जरूरी बात तो ये हैं कि इस क्षेत्र में सफल होने के लिए आपको कंप्यूटर का अच्छा खासा ज्ञान होना चाहिए। इसके अलावा आपको हिन्दी व इंग्लिश के अतिरिक्त विभिन्न भाषाएं बोलनी, पढ़नी व लिखनी आनी चाहिए।

ऑनलाइन बिज़नेस कैसे शुरू करें?

अगर आप ऑनलाइन ट्यूशन का बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो आपको किसी बड़े ताम-झाम की जरूरत नहीं है। यदि आप सिर्फ भारतीय छात्रों को ही अपना क्लाइंट बनाना चाहते हैं तो आपको अपनी वेबसाइट शुरू करनी होगी। लेकिन ज्यादा बेहतर होगा कि ग्लोबलाइजेशन (वैश्वीकरण) और इंटरनेट की आसान पहुंच कर सदुपयोग करते हुए।

यह भी पढ़ें : सौरभ नंदा बताएँगे कौन सा करियर आपके लिए होगा बेहतर ?

घर पर भी शुरू कर सकते हैं ऑनलाइन ट्यूशन

ऑनलाइन ट्यूशन पढ़ाने का फायदा यह है कि जिसमें जगह और समय मायने नहीं रखता है। आप अपनी सुविधा अनुसार कभी भी और कहीं भी कर सकते हैं। आप अपने घर के किसी कोने में यह काम आसानी से कर सकते हैं। इसके लिए आपको एक कंप्यूटर और इंटरनेट चाहिए। छात्रों को होमवर्क और असांनमेंट पूरा करने के लिए समय रहता है। ऐसे में आप अपनी सुविधा अनुसार किसी भी समय इसे काम को किया जा सकता है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *