Read Home » हिंदी लेख पढ़ें » करियर » जेईई व नीट क्रैक कराने में शांतनु कैसे कर सकते हैं आपकी मदद (crack JEE and NEET with Shantanu)

जेईई व नीट क्रैक कराने में शांतनु कैसे कर सकते हैं आपकी मदद (crack JEE and NEET with Shantanu)

  • द्वारा

हर साल देश भर के हजारों छात्र अपना भविष्य JEE व NEET (जेईई व नीट) में बनाने का सपना देखते हैं लेकिन कुछ ही का ये सपना पूरा हो पाता है क्योंकि इसमें प्रवेश पाने के लिए जो परीक्षाएं होती हैं वो बेहद ही कठिन होती हैं। लेकिन लॉकडाउन व कोरोना वायरस ने सबकुछ बदलकर रख दिया, ये सारी परीक्षाएं स्थगित कर दी गई। बीते दिनों मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ निशंक ने जेईई मेन, नीट और जेईई एडवासं की संशोधित तारीखों का ऐलान किया था। जो कि सितंबर माह में होने वाले हैं। ऐसे में सभी छात्र अपनी अपनी तैयारी में लग गए हैं। शांतनु सिंह आपकी मदद कर सकते हैं।

आप सभी छात्रों के लिए हमने बंसल क्लासेस के अनुभवी फिजिक्स टीचर शांतनु सिंह के साथ साक्षात्कार किया जिसमें उन्होने हमारे द्वारा पूछे गए कई सवालों का जवाब दिया। हमारे नेटवर्क Spark.live पर शांतनु द्वारा एक वर्कशॉप का अयोजन किया जा रहा है जिसे ज्वॉइन कर आप फिजिक्स से संबंधित अपनी सारी समस्याओं को दूर कर सकते हैं। अब तक जिन लोगों को फिजिक्स से डर लगता है वो इस वर्कशॉप को करने के बाद बेहद आसानी से सॉल्व करेंगे।

आइए जानते हैं अपने वर्कशॉप व फिजिक्स को लेकर शांतनु की क्या है राय…

प्रश्न: जेईई और नीट जैसे एग्जाम की तैयारी के लिए कैसा होना चाहिए टाइम मैनेजमेंट ?

उतर : शांतनु की मानें तो जेईई और नीट की तैयारी के लिए समय प्रबंधन एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। प्रत्येक विषय पर आपको बराबर समय देना चाहिए। यदि आपका कोई भी विषय कमजोर है तो आपको दूसरों की तुलना में उस विषय को अधिक समय देना चाहिए। वहीं दूसरी तरफ चूंकि नीट की परीक्षा में 50 प्रतिशत भाग बायोलॉजी आती है इसलिए बेहतर है कि आप अपना 50 प्रतिशत समय बायोलॉजी में दें।

इसके अलावा यदि आप कहीं ऑनलाइन या ऑफलाइन कोचिंग कर रहे हैं तो इसका विशेष ध्यान रखना है कि आपको कोचिंग पर ही पूरी तरह से निर्भर नहीं होना चाहिए क्योंकि कोचिंग के अलावा आपको दिन में कम से कम 5-6 घंटे सेल्फ स्टडी करना बेहद जरूरी होता है। पढ़ाई के अलावा नींद भी आपकी तैयारी में महत्वपूर्ण काफी भूमिका निभाती है। इसलिए कम से कम 6 घंटे की नींद आपके शरीर के लिए बेहद आवश्यक है।

प्रश्न: जेईई और नीट एग्जाम क्रैक कराने में आप कितनी मदद कर सकते हैं ?

उतर : शांतनु बताते हैं कि हर किसी को एक मार्गदर्शक की आवश्यकता होती है जो उसका हर कदम पर सही मार्गदर्शन कर सके। चूंकि मैं पिछले 6 वर्ष से अधिक समय से जेईई और नीट के छात्रों का मार्गदर्शन करता आ रहा हूं, इसलिए मैं आपको इसकी तैयारी के लिए सटीक रणनीति बता सकता हूं और आपका उचित मार्गदर्शन कर सकता हूं ताकि आप जेईई या नीट परीक्षा में पास हो सकें।

प्रश्न: बाकी विषयों की तुलना में फिजिक्स पर कितना समय देना चाहिए ?

उतर : शांतनु सिंह के अनुसार यदि भौतिकी विषय आपका कमजोर प्वांइट है तो आपको अपने कुल अध्ययन के समय का 40 प्रतिशत इस विषय को देना चाहिए। लेकिन अगर यह आपका फिजिक्स स्ट्रॉन्ग है तो 30 प्रतिशत समय देना पर्याप्त होगा।

फिजिक्स टीचर शांतनु के वर्कशॉप को ज्वॉइन करने के लिए यहां क्लिक करें

प्रश्न: जेईई और नीट के सिलेबस में एनसीआरटी (NCERT) का क्या रोल है ?

उतर : NCERT हमेशा से जेईई और नीट उम्मीदवारों दोनों के लिए बेहद महत्वपूर्ण रही है। पिछले कुछ वर्षों से यह देखा गया है कि सवाल सीधे NCERT पुस्तकों से ही पूछे गए थे। आमतौर पर NCERT पुस्तक का सिद्धांत आपके विषय संबंधी शंकाओं को दूर करने के लिए सबसे बेहतर माना जाता है।

प्रश्न: आपके वर्कशॉप से जेईई व नीट के छात्रों को कितना होगा फायदा ?

उतर : शांतनु कहते हैं कि मेरे वर्कशॉप में भाग लेने के बाद जेईई और नीट के उम्मीदवारों को यह समझने में मदद मिलेगी कि भौतिकी से संबंधित किसी भी समस्या का सामना कैसे करें और भौतिकी को कैसे अपनी ताकत बनाएं

प्रश्न: इस वर्कशॉप में जेईई व नीट के छात्रों को क्या-क्या सीखने को मिलेगा ? कुछ महत्वपूर्ण चीजें बताएं ?

उतर : इस वर्कशॉप को अटेंड करने के बाद, छात्रों के पास उनके सभी सामान्य प्रश्नों के उत्तर होंगे, जैसे- मैं लंबे समय तक खुद नहीं पढाई नहीं कर पाता, मैं भौतिकी के न्युमेरिकल्स हल नहीं कर पा रहा हूं, जेईई और नीट की तैयारी के लिए कौन सी किताबें बेहतर होंगी?, सेल्फ स्टडी के लिए हमें कितना समय देना चाहिए, बेहतर क्या है सेल्फ स्टडी या कोचिंग, ध्यान भटकने से कैसे बचें, परीक्षा में छोटी छोटी गलतीयां करने से कैसे बचें, सही प्रयास करने वाली पेपर की तैयारी और तैयारी से जुड़े कई तमाम प्रश्न।

प्रश्न: क्या इस वर्कशॉप के बाद जेईई व नीट के छात्रों को फिजिक्स आसान लगने लगेगा ? अगर हां तो कैसे

उतर : हाँ, हमारी वर्कशॉप को करने के बाद जेईई और नीट परीक्षा की तैयारी के दौरान उन्हें क्या करना है और क्या नहीं, इसकी स्पष्ट दृष्टि होगी। मेरा मानना है कि यदि आप सही दिशा में अपनी क्षमता का इस्तेमाल करते हैं तो आपका काम हो जाएगा और कोई भी आपके सपनों को जीतने से नहीं रोक सकता है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *