Read Home » हिंदी लेख पढ़ें » कल्याण और आध्यात्मिकता » मकर संक्रांति पर पाएं शनि देव की कृपा (Get the Grace of Shani Dev on Makar Sankranti)

मकर संक्रांति पर पाएं शनि देव की कृपा (Get the Grace of Shani Dev on Makar Sankranti)

  • द्वारा

हर तरफ मकर संक्रांति की रौनक है, बच्चे, बड़े सब पतंग उड़ाने के जोश में हैं. तिल के लड्डू हर घर में बने हैं, ममम… मुंह में पानी आ गया, इन सब के अलावा मकर संक्रांति पर पूजा होती है और ज्योतिषियों का कहना है कि सूर्य देव जब मकर राशि में आते हैं तो शनि की प्रिय वस्तुओं के दान से भक्तों पर सूर्य की कृपा बरसती है।

इसीलिए मकर संक्रांति के दिन तिल से बानी वस्तुओं का दान शनिदेव की विशेष कृपा को घर और परिवार में लाता है। इस दिन गंगा नदी में स्नान, दान, पूजा आदि करना सौ गुणा फल देता है। आप पढ़िए और जानिये इस दिन राशि अनुसार किस चीज का दान करने से क्या पुण्य फल की प्राप्ति होती है, मैं चली तिल का लड्डू खाने।

राशि के अनुसार करें दान-पुण्य:

मेष- तिल-गुड़ का दान करने से उच्च पद की प्राप्ति होगी।

वृष- तिल डालकर अर्घ्य देने से बड़ी जिम्मेदारी मिलेगी।

मिथुन- जल में तिल, दूर्वा और पुष्प मिलाकर सूर्य को अर्घ्य देने ऐश्वर्य की प्राप्ति होगी।

कर्क- चावल-मिश्री-तिल का दान करने से घर-परिवार में कलह-संघर्ष, व्यवधानों पर विराम लगेगा।

सिंह- तिल, गुड़, गेहूं, सोना दान करने से नई उपलब्धि मिलेगी।

कन्या- पुष्प डालकर सूर्य को अर्घ्य दें।

तुला- सफेद चंदन, दूध और चावल दान करें।

वृश्चिक- जल में कुमकुम और गुड़ दान करें, विदेशी कार्यों से लाभ होगा और विदेश यात्रा होगी।

धनु- जल में हल्दी, केसर, पीले पुष्प तथा तिल मिलाकर सूर्य को अर्घ्य दें चारों-ओर विजय होगी।

मकर- तिल मिलाकर सूर्य को अर्घ्य देने से अधिकार प्राप्ति होगी।

कुंभ- तेल-तिल का दान करने से विरोधी परास्त होंगे।

मीन- हल्दी, केसर, पीत पुष्प, तिल मिलाकर सूर्य को अर्घ्य दें और सरसों, केसर का दान करें, सम्मान और यश

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *