Read Home » हिंदी लेख पढ़ें » कल्याण और आध्यात्मिकता » हज़ारों साल बाद विशेष योग के साथ लगेगा सूर्यग्रहण, राशियों पर कैसा होगा असर

हज़ारों साल बाद विशेष योग के साथ लगेगा सूर्यग्रहण, राशियों पर कैसा होगा असर

  • द्वारा
solareclipse

सूर्यग्रहण हो या फिर चंद्रग्रहण वैज्ञानिक दृष्टि से देखा जाए तो यह एक भौतिक या खगोलीय घटना मानी जाती है लेकिन ज्योतिष शास्त्र में इसका महत्व काफी ज्यादा बढ़ जाता है। इस बार 21 जून दिन रविवार को पड़ने वाला ग्रहण साल का पहला सूर्य ग्रहण है। हालांकि ये ग्रहण कई मामलों में खास माना जा रहा है। ज्योतिषाचार्यों की मानें तो इस बार का ये ग्रहण आषाढ़ अमावस्या को लग रहा है जो कि वलयाकार यानी फायर रिंग के रूप में दिखेगा। हालांकि इस ग्रहण पर हर किसी की नजर भी है क्योंकि ये अपने साथ कई बुरे प्रभावों को लेकर भी आता है।

यह भी पढ़ें : ज्योतिष: ग्रह चंद्रमा और भावनाएं एक दूसरे से कैसे हैं संबंधित ?

सूर्यग्रहण का समय व सूतक काल

भारतीय समय की मानें तो 21 जून 2020 को लगने वाला ये सूर्य ग्रहण सुबह 09:15 से 03:04 बजे तक रहेगा। दोपहर 12:10 बजे ये अपने चरम सीमा पर होगा। वहीं ग्रहण के दौरान सबसे महत्वपूर्ण होता है सूतक काल तो इसलिए ध्यान रहे कि इस सूर्यग्रहण का सूतक 20 जून की रात 09:15 से ही शुरू हो जायेगा जो कि ग्रहण के ख़त्म होने के साथ ही समाप्त होगा। इस दौरान आप कोई भी शुभ कार्य न करें।

हजारों साल बनेगा ये विशेष योग

ज्योतिषियों की मानें तो इस तरह का सूर्य ग्रहण हजारों साल बाद पड़ता है ऐसे में एक विशेष ज्योतिषीय योग भी बन रहा है। इस विशेष योग के अंतर्गत 21 जून को ग्रहण के दिन राहु और केतु एक ही पंक्ति में आने जा रहे हैं। यही नहीं इस विशेष ज्योतिषीय योग के अंतर्गत राहु के साथ बुध और सूर्य आने वाले हैं। इसके अलावा सूर्य ग्रहण के साथ कालसर्प योग लगने की आकाशीय स्थिति बन रही है।

कैसा रहेगा इस सूर्यग्रहण का १२ राशियों पर प्रभाव

मेष राशि- इस राशि वाले जातकों को 21 जून के सूर्य ग्रहण से लाभ होने वाला है। ज्योतिष का कहना है कि इन राशि वालों को इस दौरान धन, पद और सम्मान की प्राप्ति होगी।

वृषभ राशि- ज्योतिषियों की मानें तो इस सूर्य ग्रहण का सबसे अधिक प्रभाव वृषभ राशि वाले जातकों पर पड़ सकता है। इस राशि वालों के लिए यह सूर्यग्रहण आर्थिक और नौकरी के क्षेत्र में परेशानी पैदा करेगा।

मिथुन राशि- मिथुन राशि वाले जातकों के लिए भी यह सूर्य ग्रहण अच्छा नहीं है। ध्यान रहे कि इन जातक वाले लोगों को सूर्य ग्रहण वाले दिन वाहन दुर्घटना और वाद-विवाद जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

कर्क राशि- इन राशि वाले जातकों को जमीन-जायदाद और वाहन से जुड़े मामले में सावधानी रखें क्योंकि इससे सम्बंधित विवाद होने की अधिक संभावना है।

सिंह राशि- इस राशि के लिए यह समय बहुत अच्छा है। जहां इस राशि वालों के लिए यह समय पैसे के मामले में मजबूत बनाएगा वहीँ इन्हें जीवनसाथी का भी सुख प्राप्त होगा।

कन्या राशि- इन राशि वाले जातकों के लिए भी यह सूर्य ग्रहण लाभदायक साबित होने वाला है। इस राशि के लोगों को सूर्यग्रहण के दौरान शुभ समाचार प्राप्त होने की प्रबल संभावना है।

यह भी पढ़ें : ज्योतिष: जानें कौन सी है साल 2020 की सबसे भाग्यशाली राशि

तुला राशि- इन राशि वाले जातकों को ज्योतिष विशेष सलाह दे रहे है कि वो सूर्य ग्रहण वाले दिन किसी भी तरह के वाद-विवाद में न पड़े व खुद को शांत रखें।

वृश्चिक राशि- इस राशि वाले जातक इस दिन जो भी फैसला करें बहुत सोच-समझ कर करें क्योंकि इस राशि के लोगों को किसी चिंता में पड़ने की संभावना है।

धनु राशि- इन राशि वाले जातकों को विशेष रूप से ये सलाह है कि ये इस दिन अपने जीवनसाथी का ध्यान रखते हुए ही फैसला करें नहीं तो पारिवारिक जीवन को लेकर तनाव हो सकता है।

मकर राशि- इन राशि वाले जातकों के लिए कुल मिलाकर यह सूर्य ग्रहण शुभ और फलदायी रहने की सम्भावना है।

कुम्भ राशि- इस राशि वाले जातकों को मानसिक परेशानी हो सकती है और तनाव का सामना भी करना पड़ सकता है। ध्यान रहे कि आपको जरूरत पड़ने पर डॉक्टर की सलाह भी लेनी पड़ सकती है।

मीन राशि- मीन राशि वालों के लिए भी यह ग्रहण परेशान करने वाला है। इस दौरान इस राशि वालों के लिए खर्च अधिक रहेगा मतलब आमदनी अठन्नी खर्चा रुपैया इस राशि के लोगों की तबियत खराब हो सकती है और मानसिक तनाव का सामना भी कर पड़ सकता है।

ज्योतिष संबंधी समस्याओं का समाधान जानने के लिए या फिर अपनी राशियों पर पड़ने वाले प्रभाव के बारे में क्लिप एस्ट्रो आपकी मदद करेंगे। क्लिप एस्ट्रो आपको सही करियर मार्ग और व्यावसायिक अवसरों का सुझाव देंगे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *