शरीर, मन व अंतरात्मा का मिलन

 Availability

Monday to Saturday - 9 AM to 6 PM

 Program Language

Hindi

Fee Structure

Rs 312.0 per 60 Minutes Session

Price

₹312.0 ₹390.0   20.0% off



Spark.Live Guarantee

 All Sessions are Live and Interactive

 100% Vetted by Spark.Live Team

 Easy Refunds on Cancelled Sessions

 Support for UPI, Debit Card, Credit Card, Netbanking, EMI and more

Online Class Details

शारीरिक विश्राम

हम जो भी क्रिया हर रोज करते हैं या मन में उत्पन्न होती हैं वो सचेतन या अवचेतन रूप की होती है। ये अवचेतन विचार क्रिया का रूप लेते हैं, जिसकी वजह से शरीर में प्रतिक्रिया होती है। जब हम कोई क्रिया करना चाहते हैं, तो दिमाग में एक विचार उत्पन्न होता है और मस्तिष्क में संचारित होता है। मस्तिष्क तंत्रिकाओं और मांसपेशियों के अनुबंध के माध्यम से संदेश को टेलीग्राफ करता है।

जिस तरह से मांसपेशियों के संकुचन के पीछे विचार होता है, वैसे ही विश्राम के पीछे भी सोचा जाता है। जैसे हम मांसपेशियों को अनुबंधित करने के लिए संदेश भेजते हैं, वैसे ही हम मांसपेशियों को आराम करने के लिए संदेश भेज सकते हैं। लेकिन जब हमारा हृदय, फेफड़े, यकृत, मस्तिष्क आदि जैसे अनैच्छिक अंगों पर कोई नियंत्रण नहीं होता है, तो हम इन अंगों को विश्राम के लिए सीधे विचार नहीं भेज सकते हैं।

फिर भी, उन्हें भी आराम की जरूरत है। यहां, योगी अवचेतन मन का उपयोग करते हैं, जो अनैच्छिक अंगों के सभी स्वायत्त कार्यों को नियंत्रित करता है। विश्राम की इस प्रक्रिया के दौरान, चेतन मन किसी विशेष अंग जैसे हृदय या यकृत को संदेश भेजता है। यह संदेश अवचेतन मन द्वारा प्राप्त किया जाता है और तुरंत आदेश दिया जाता है। इस विश्राम तकनीक को ऑटोसजेशन के रूप में जाना जाता है।

इस तकनीक के प्रयोग से व्यक्ति शरीर के सभी अनैच्छिक अंगों को आराम दे सकता है। हम पैर की उंगलियों से लेकर आंखों और कानों तक शुरू करते हैं, जिससे शरीर के प्रत्येक भाग को आराम मिलता है। फिर, मस्तिष्क और मस्तिष्क को आराम करने के लिए गुर्दे, जिगर, आदि को संदेश भेजे जाते हैं।

मानसिक आराम

फिजुल की चिंताओं के कारण भी कई बार मन में लगातार तनाव बना रहता है जो कि शारीरिक ऊर्जा को भी दूर करता है। कई बार मानसिक तनाव के दौरान प्रत्येक साँस लेना और साँस छोड़ने पर कुछ मिनटों के लिए धीरे-धीरे और आरामदायक रूप से साँस लेना महत्वपूर्ण है धीरे-धीरे मन शांत हो जाएगा।

आध्यात्मिक विश्राम

जब तक हम मन को शांत करने की कोशिश करते हैं, तब तक हम पूरी तरह से तनाव और चिंता को दूर नहीं कर सकते लेकिन जब हम आध्यात्मिक विश्राम की स्थिति तक नहीं पहुँचते। जब तक हम शरीर और मन से पहचान करते हैं तब चिंताएं, दुख, भय व क्रोध होंगे। जब तक हम खुद को अहंकार-चेतना से अलग नहीं करेंगे, तब तक हम पूरी तरह से आराम नहीं कर पाएंगे।

मानसिक शिथिलता की स्थिति से योग मन को भीतर खींचता है। सर्वव्यापी, सर्व-शक्तिशाली, सभी-शांतिपूर्ण स्व के साथ की पहचान करता है, जिसे शुद्ध चेतना के रूप में भी जाना जाता है - शक्ति, ज्ञान, शांति और शक्ति का स्रोत।

हम शरीर और मन के साथ पहचान के माध्यम से मन की नकारात्मक भावनाओं के शिकार हो गए हैं इसकी वजह से आप खुद को उस चंगुल से मुक्त करने का एकमात्र तरीका है कि हम अपने वास्तविक स्वरूप का आकलन करें - 'मैं स्वयं की शुद्ध चेतना हूं। विश्राम की प्रक्रिया।

योग शरीर, मन और आत्मा का मिलन है। ये सभी शरीर को शांत स्वभाव और खुद को मजबूत भावना की ओर ले जाती है जो आपको सभी मुश्किल समय से वापस ला सकती है।

About Rashmi Gola

Yoga Guru, Fitness Trainer, and Psychic Healer | योग गुरु, फिटनेस ट्रेनर और साइकिक हीलर

Rashmi Gola is a yoga guru from Sivananda Yoga Institute, Netala, Uttarakhand. She is also a Reebok certified fitness trainer and has won the Gold Medal in Powerlifting Sports, 2016.

She teaches Yoga - a three-part braid of vinyasa, precise alignment, and the Buddhist practice of mindfulness and compassion. She developed this practice organically over the years as a result of her own passions: movement, precision, and Buddhadharma. Experienced in the classical yoga tradition, she awakens and strengthens your own yoga practice. 

She is also a Reiki grandmaster and a Bach Flower therapist. Bach Flower is an alternative healing treatment that works on our emotions to cure us of certain ailments.

रश्मि गोला शिवानंद योग संस्थान, उत्तराखंड के नेताला में एक योग गुरू हैं। रश्मि रिबॉक प्रमाणित फिटनेस ट्रेनर भी हैं यही नहीं इन्हें साल २०१६ में पावरलिफ्टिंग खेलों में स्वर्ण पदक भी मिल चुका है। 

रश्मि योग सिखाती है, जो कि विनीसा, सटीक संरेखण और बुद्धि और करुणा के बौद्ध तरीकों का ही तीन भाग है। योग का जूनून उनके अंदर वर्षों से हैं इसकी वजह से ही उनकी आंदोलन, सटीकता और बुद्धधर्म की प्राप्ति हुई हैं। रश्मि को शास्त्रीय योग परंपरा में भी अनुभव है वो आपके योग अभ्यास को जागृत व और भी मजबूत करती है।

वह एक रेकी ग्रैंडमास्टर और बैच फ्लावर चिकित्सक भी है। बैच फ्लावर एक वैकल्पिक उपचार है जो हमारी भावनाओं पर काम करता है। यह बिल्कुल होम्योपैथी के समान है।

Connect With Expert

To connect with Rashmi Gola, download Spark.Live android app, search their profile and message them from their profile.

Videos from Rashmi Gola

Show More 

Related Services

Show More 

योग शुद्धि सागर

कोरोना के खिलाफ लड़ने के लिए सागर के साथ योग सीखें



₹220.0  ₹176.0